Celebrating 25 Years of Google Doodle: A Journey Down Memory Lane

Celebrating 25 Years of Google Doodle: A Journey Down Memory Lane

Today, we celebrate a milestone in the history of Google – the 25th Google Doodle birthday of Google Doodle! For a quarter of a century, these creative and interactive doodles have been adorning the Google homepage, bringing joy and curiosity to millions of users worldwide.

Google Doodle, a temporary modification of the Google logo, was first introduced on August 30, 1998, by Larry Page and Sergey Brin, the co-founders of Google. It all started with a simple doodle depicting the iconic Burning Man symbol, which was intended to inform users that the founders were attending the Burning Man festival in Nevada.

Over the years, Google Doodle has evolved into much more than just a fun design change. It has become a platform to celebrate important events, historical milestones, and influential figures. From highlighting holidays and cultural events to commemorating scientists, artists, and athletes, Google Doodle has become an integral part of the Google search experience.

As we celebrate 25 years of Google Doodle, let’s take a trip down memory lane and revisit some of the most memorable doodles that have graced our screens:

  1. The first animated Google Doodle: On October 31, 2000, Google introduced its first animated doodle to celebrate Halloween. It featured a simple animation of a stick figure drawing the Google logo.
  2. The Pac-Man Doodle: In May 2010, Google launched an interactive Pac-Man doodle to celebrate the 30th anniversary of the classic arcade game. Users could actually play the game by clicking on the doodle.
  3. The interactive Rubik’s Cube Doodle: In honor of the 40th anniversary of the Rubik’s Cube, Google created an interactive doodle that allowed users to solve the virtual cube right on the homepage.

These are just a few examples of the countless creative and engaging doodles that Google has brought to us over the years. Each doodle tells a unique story and captures the spirit of the occasion it represents.

So, how does Google decide which events and figures to honor with a doodle? The process is a combination of art, technology, and collaboration. A team of talented illustrators, designers, and engineers work together to create these captivating designs. They research the event or person being commemorated and brainstorm ideas to bring the doodle to life.

Once the concept is finalized, the doodle goes through a rigorous development process to ensure it looks great on different devices and platforms. The final doodle is then released to the world, often accompanied by a blog post that provides more information about the event or person being celebrated.

As we look forward to the next 25 years of Google Doodle, we can expect even more creativity and innovation. With advancements in technology, we might see more interactive and immersive doodles that will take our browsing experience to new heights

Doodle
Doodle

आप एक नई स्मार्टफोन, आईपैड, लैपटॉप, या अन्य इलेक्ट्रॉनिक उपकरण दे सकते हैं जिसमें वे काम करते हैं। अगर वे गेमिंग के शौकीन हैं, तो एक नया गेमिंग कंसोल अथवा गेम्स के लिए उपहार पर विचार करें। यदि वे किताबों के शौकीन हैं, तो आप उन्हें उनकी पसंद के लेखक या थीम की कुछ बेहतरीन किताबें दे सकते हैं।

आज का दिन: गूगल का जन्मदिन

आज हम सबका पसंदीदा खोज इंजन गूगल का जन्मदिन है। गूगल ने इंटरनेट पर खोज को एक नया आयाम दिया है और हमारे जीवन को बदल दिया है। गूगल का जन्मदिन वर्ष 1998 में मनाया गया था जब इसके संस्थापक लैरी पेज और सर्गे ब्रिन ने मिलकर इसे शुरू किया।

गूगल ने तकनीकी उन्नति के क्षेत्र में बहुत सारे अविष्कार किए हैं। यह सर्वप्रथम एक साधारण खोज इंजन के रूप में शुरू हुआ था, लेकिन बाद में इसने वेब डिजाइन, ईमेल, वीडियो, नक्शा आदि के क्षेत्र में भी अपनी छाप छोड़ी है।

गूगल ने जब अपना पहला लोगो बनाया था, तो इसे ‘गूगोल’ नाम दिया गया था। लेकिन बाद में इसे ‘गूगल’ में बदल दिया गया। गूगल ने जीवन को बहुत आसान बना दिया है, आज हम इंटरनेट पर किसी भी चीज़ की खोज कर सकते हैं और जब चाहें तब खरीद सकते हैं।

यदि आप एक खास उपहार देने की सोच रहे हैं तो आप एक व्यापार कार्ड, शानदार अनुभव, या एक सप्ताहांत यात्रा की व्यवस्था कर सकते हैं। इससे आप उन्हें एक यात्रा का अनुभव करने का एक बढ़िया मौका देंगे और वे अपने जीवन की एक खास स्मृति बना सकेंगे।

गूगल वैसे तो दोस्तों हर दूसरे दिन Doodle बनता है लेकिन आज गूगल ने खुद को डूडल बनाया है जैसे कि आप जानते हैं कि डूडल गूगल अपना 25 बार जन्मदिन मना रहा है आप सभी को पता होगा कि गूगल की स्थापना 27 सितंबर 1998 की गई थी और यह नेटवर्क क्षेत्र में सबसे ज्यादा योगदान करने वाला प्लेटफार्म है इसकी वजह से वर्ल्ड में नेटवर्क के क्षेत्र में अधिक बदलाव आए जिसकी वजह से गूगल ने जो डूडल बनाया है उसके लिए 25 में जन्मदिन पर हार्दिक शुभकामनाएं

‘Google’ की शुरुआत कैसे हुई

दोस्तों आपकी जानकारी के लिए बता दे की गूगल की शुरुआत दो दोस्तों के उनका नाम था एक का नाम था संगोई ब्रायन और लैरी पेज की मुलाकात 1990 ईस्वी में हुई जिन्होंने स्टैंड पर विश्वविद्यालय के कंप्यूटर साइंस प्रोग्राम के दौरान अपनी दोस्ती के चलते एक नया वर्ल्ड वाइड ऐप बनाने की खोज की जिसके चलते उन्होंने एक वर्ल्ड को सर्च इंजन के तहत उसे पर सभी चीज अपलोड करने की खोज की इसके चलते

इन्होंने इस सॉफ्टवेयर एवं प्रोग्राम का नाम गूगल रखा जिसको एक ऑफर के तौर पर किराए के रूप में गैरेज का नाम चुने गया इसके बाद गूगल में लोगों ने बहुत चीजों पर बदलाव किया आज दुनिया भर में और वह से ज्यादा की जनसंख्या गूगल प्लेटफार्म को इस्तेमाल कर कर डूडल रूस समेत बहुत अन्य कंट्री है इस पर अच्छी कमाई एवं सर्च कर रहे हैं बहुत सारी कंट्री में गूगल को गूगल फ्लेक्स के नाम से जाना जाता है जबकि अन्य कंट्री में गूगल को गूगल के नाम से अब गूगल ने डूडल नाम चेंज किया है

1998 में शुरू की गूगल कंपनी ने अब तक दुनिया को सबसे बड़ा नेटवर्क क्षेत्र माना

गूगल की शुरुआत 1998 की गई जबकि गूगल को उसे समय छोटे गैराज से शुरुआत की गई थी आज दुनिया में गूगल सबसे बड़ी कंपनी बन चुकी है। जिसके चलते गूगल एक सबसे बड़ा सर्च इंजन एवं प्लेटफॉर्म बन गया

Leave a Comment

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now