PRS Oberoi Died: ओबेरॉय होटल्स के PRS ओबेरॉय का निधन, 94 साल की उम्र में ली आखिरी सांस

PRS Oberoi Died: ओबेरॉय होटल्स के PRS ओबेरॉय का निधन, 94 साल की उम्र में ली आखिरी सांस

नहीं रहे ओबेरॉय ग्रुप के चेयरमैन, अरबों की संपत्‍त‍ि के माल‍िक थे 5 Star होटल के जनक PRS Oberoi DiedWho was PRS Oberoi: असाधारण नेतृत्व और दूरदर्शिता के लिए उन्हें इंटरनेशनल लग्‍जरी ट्रैवल मार्केट (ILTM) में लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड दिया गया. ओबेरॉय को होटल्स (मैगजीन) यूएसए द्वारा ‘कॉर्पोरेट होटलियर ऑफ द वर्ल्ड’ पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया.

नहीं रहे ओबेरॉय होटल्स के चेयरमैन एमरिटस PRS ओबेरॉय, 94 की उम्र में हुआ निधन

PRS ओबेरॉय को अंतरराष्ट्रीय लग्जरी ट्रैवलर्स के बीच ओबेरॉय होटल्स को लाने का श्रेय जाता है. उन्होंने भारत के कुछ महत्वपूर्ण शहरों में कई लग्जरी होटल्स शुरू किए.

ओबेरॉय ग्रुप के चेयरमैन एमरिटस पृथ्वी राज सिंह ओबेरॉय (PRS Oberoi) का निधन मंगलवार की सुबह हो गया. उनकी उम्र 94 वर्ष की थी. कंपनी की प्रवक्ता ने इसकी जानकारी दी.

कंपनी ने आधिकारिक बयान में बताया, ‘हमें ये बताते हुए दुःख हो रहा है कि हम सभी के प्यारे PRS ओबेरॉय, जो कि ग्रुप के चेयरमैन एमरिटस थे, उनका आज स्वर्गवास हो गया. उनका जाना ओबेरॉय ग्रुप के साथ भारत और विदेश में हॉस्पिटैलिटी इंडस्ट्री के लिए भारी क्षति है.’

उन्हें भारत में होटल बिजनेस की कायापलट करने वाले शख्स के रूप में जाना जाता है, PRS ओबेरॉय को दुनिया के लग्जरी ट्रैवेलर्स के नक्शे पर ओबेरॉय होटल्स को स्थापित करने करने का श्रेय जाता है, उन्होंने दुनिया के कई शहरों में लग्जरी होटल्स खोले.

3 फरवरी 1929 में जन्मे PRS ओबेरॉय स्वर्गीय श्री राय बहादुर MS ओबेरॉय के बेटे हैं, जिन्होंने ओबेरॉय ग्रुप की स्थापना की. PRS ओबेरॉय ने भारत, यूनाइटेड किंगडम (UK) और स्विट्जरलैंड में अपनी पढ़ाई की.

‘बिकी’ के नाम से प्रसिद्ध, PRS ओबेरॉय को हॉस्पिटैलिटी इंडस्ट्री में ओबेरॉय सेंटर ऑफ लर्निंग एंड डेवलपमेंट (Oberoi Center of Learning and Development) को स्थापित करने का श्रेय जाता है, जहां से इंडस्ट्री के कई बड़े लीडर्स और अचीवर्स निकले.

जनवरी 2008 में, हॉस्पिटैलिटी सेक्टर के इस दिग्गज को, देश में अपनी अतुलनीय सुविधाएं प्रदान करने के लिए पद्म विभूषण सम्मान से सम्मानित किया गया, जो कि भारत का दूसरा सर्वोच्च नागरिक सम्मान है.

इसके साथ ही PRS ओबेरॉय को, दिसंबर 2012 में कान्स में आयोजित इंटरनेशनल लग्जरी ट्रैवल मार्केट (ITLM) की ओर से लाइफटाइम अचीवमेंट अवॉर्ड मिला.

3 मई 2022 को PRS ओबेरॉय ने EIH लिमिटेड के चेयरमैन और डायरेक्टर का पदभार भी संभाला था.

PRS Oberoi Died: ओबेरॉय होटल्स के संरक्षक पृथ्वी राज सिंह ओबेरॉय का 94 साल की उम्र में निधन हो गया है। इस बात की जानकारी ओबेरॉय समूह की ओर से दी गई है। पृथ्वीराज सिंह ओबेरॉय उस शख्स के तौर पर जाने जाते हैं। जिन्होंने भारत में होटल उद्योग का चेहरा बदल दिया

PRS Oberoi Died: ओबेरॉय होटल्स के संरक्षक पृथ्वी राज सिंह ओबेरॉय का 94 साल की उम्र में निधन हो गया है। इस बात की जानकारी ओबेरॉय समूह की ओर से दी गई है। पृथ्वीराज सिंह ओबेरॉय उस शख्स के तौर पर जाने जाते हैं। जिन्होंने भारत में होटल उद्योग का चेहरा बदल दिया

PRS OBEROI DIED: पृथ्वी राज सिंह ओबेरॉय को भारत के दूसरे सबसे बड़े नागरिक सम्मान पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया था।

PRS Oberoi Died: ओबेरॉय ग्रुप के चेयरमैन पृथ्वी राज सिंह ओबेरॉय का आज यानी 14 नवंबर को सुबह निधन गया। 94 साल की उम्र में उन्होंने आखिरी सांस ली। ओबेरॉय ग्रुप के प्रमुख EIH लिमिटेड के पूर्व एग्जीक्यूटिव को उस शख्स रूप में जाना जाता है। जिन्होंने भारत में होटल के कारोबार का पूरा चेहरा बदल दिया। इन्हें Biki के नाम से जाना जाता है। PRS  ओबेरॉय ने साल 2022 में ईआईएच लिमिटेड के कार्यकारी अध्यक्ष और ईआईएच एसोसिएटेड होटल्स लिमिटेड के चेयरमैन के रूप में अपने पद छोड़ दिए थे।

उन्हें 2008 में पद्म विभूषण से भी सम्मानित किया गया था। PRS ओबेरॉय को कई बड़े शहरों में कई लक्जरी होटल खोलने का श्रेय दिया जाता है। उन्होंने ओबेरॉय होटलों को इंटरनेशनल लेवल पर पहचान दिलाई। PRS ओबेरॉय, द ओबेरॉय ग्रुप के संस्थापक दिवंगत राय बहादुर एमएस ओबेरॉय के बेटे थे। उनका जन्म 3 फरवरी 1929 को हुआ था।

लग्जरी होटलों का ब्रांड है ओबेरॉय ग्रुप

PRS ओबेरॉय ने भारत, यूनाइटेड किंगडम और स्विट्जरलैंड से अपनी पढ़ाई पूरी की है। ईआईएच लिमिटेड की वेबसाइट के मुताबिक, कई देशों में इस ग्रुप के लग्जरी होटल भी हैं और इसके साथ ही ग्रुप ने होटलों और रिसॉर्ट्स के विकास में भी अहम भूमिका निभाई है। आज “ओबेरॉय” लग्जरी होटलों में शामिल हो गया है और अपनी सर्विस के लिए लोगों की पसंद भी बन गया है। दिसंबर 2012 में उन्हें लाइफटाइम चीवमेंट अवॉर्ड से सम्मानित किया गया। कंपनी की वेबसाइट के अनुसार, पीआरएस ओबेरॉय मानते थे कि किसी भी ऑर्गेनाइजेशन की सबसे कीमती संपत्ति उसके लोग होते हैं। वह हॉस्पिटलिटी मैनेजमेंट में क्वालिटी को काफी महत्व मानते थे। कंपनी ने बयान में कहा कि मानद चेयरमैन के निधन की खबर से हर कोई दुखी है। उनका निधन ओबेरॉय ग्रुप के लिए और भारत और पूरी दुनिया की हॉस्पिटलिटी इंडस्ट्री के लिए बड़ी क्षति है।

Leave a Comment

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now